बदायूँः 23 जून। उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान की प्रधान सम्पादक डॉ0 अमिता दुबे ने बताया कि उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान द्वारा युवा रचनाकारों (18 से 30वर्ष) को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान द्वारा कहानी/कविता/निबन्ध प्रतियोगिता हेतु प्रविष्टियाँ आमंत्रित हैं- कहानी/कविता/निबन्ध तीन प्रतियों में कम्प्यूटर टाइप एक आकार में भेजनी होगी। कहानी अधिकतम 2500 शब्द व कविता अधिकतम 500 शब्द (एक और टंकित) हो। निबन्ध ’प्रकृति और हम’ विषय पर केन्द्रित होगा, जो अधिकतम 2500 शब्द का (एक ओर टंकित) होगा। कहानी/कविता भारतीय सामाजिक, सांस्कृतिक मूल्यों पर केन्द्रित होनी चाहिए। कहानी/कविता/निबन्ध पर शीर्षक के अतिरिक्त लेखक का नाम व पता अंकित नहीं होना चाहिए। अलग पृष्ठ पर कहानी/कविता/निबन्ध के शीर्षक के साथ प्रतिभागी का नाम, पता, दूरभाष संख्या सहित हाईस्कूल प्रमाण पत्र की छायाप्रति संलग्न करना अनिवार्य है। पूर्व में पुरस्कृत रचनाकार की प्रतिष्टि उसी विधा में स्वीकार नहीं की जायेगी। प्रविष्टि भेजने की अंतिम तिथि 14 अगस्त, 2023 है। प्रविष्टियों निदेशक, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, राजर्षि पुरुषोत्तमदास टण्डन हिन्दी भवन, 6-महात्मा गांधी मार्ग, हजरतगंज, लखनऊ-226001 के पते पर भेजी जाएगी। प्रविष्टि के लिफाफे पर कहानी/कविता/निबन्ध प्रतियोगिता लिखना अनिवार्य है। यह प्रतियोगिता उत्तर प्रदेश के युवा रचनाकारों के लिए है। प्रथम पुरस्कार रु0 7,000-00 द्वितीय पुरस्कार रु0 5,000-00 तृतीय पुरस्कार- रु0 4,000-00, सांत्वना पुरस्कार (संख्या-दो) – रु0 2,000-00 है।

—-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *